जब कोई घर बनाने के लिए लोन अप्लाई करता है तो उनको विशेष बातों का ध्यान रखना चाहिए ऐसे लोन का अप्रूवल नहीं मिलता है रेगुलर हाउसिंग लोन की प्रक्रिया अलग तुलना में होती है घर खरीदने के लिए जब कोई तैयार होता है या फिर कोई काम कर रहा होता है या घर की कोई प्लेन कर रहा है तभी उनको घर बनाने के लिए होम लोन देते हैं जो ऐसे लोन है उनको कंस्ट्रक्शन लोन भी कहा जाता है होम लोन कंस्ट्रक्शन लोन यह दोनों सेम नहीं होते हैं लोग इन को सेम समझते हैं यह चीज ध्यान में रखें अलग-अलग होते हैं और इनकी शर्ते भी अलग-अलग होती है  

होम लोन क्या होता है इसके लिए क्या योग्यता लगती है।

तो आइए फुल डिटेल में नीचे जानिए। इसके लिए उम्र होनी चाहिए 18 से 65 वर्ष तक यह भारतीय नागरिक होना चाहिए भारत का रहने वाला स्थाई निवासी भारतीय रोजगार जिसमें रोजगार है खुद का रोजगार हो या फिर नौकरी पेशा हो क्रेडिट स्कोर 750 से ज्यादा होना चाहिए आया ₹25000 प्रति माह से ज्यादा होनी चाहिए यह सब होम कंस्ट्रक्शन लोन के लिए योगिता होनी जरूरी है तभी आपको होम कंस्ट्रक्शन लोन क्या सकते हैं।

होम लोन को किन दस्तावेजों की जरूरत पड़ती है।

इसके लिए सबसे पहले हमारे पास केवाईसी होनी चाहिए और इसके अलावा हमारे पास घर की जमीन बनवाने के लिए आपको ऋणदाता को दस्तावेज दिखाने होगे उस जमीन पर आपका हक होना चाहिए जमीन का टुकड़ा फ्रीहोल्ड भी हो सकता है या फिर डीडीए, सीआईडीसीओ इत्यादि। आप लीज होल्ड जमीन पर भी लोन ले सकते परंतु लीज होल्ड अवधि के लिए होनी चाहिए और इसके अलावा आपको इनकम सर्टिफिकेट जमा करना हो करवाना होगा। जिसमें ग्राम पंचायत या फिर स्थानीय निकाय संस्थाओं में मजदूरी दि हो और इसमें आपको यह भी बताना होगा कि आपको कितनी लागत अंदाजा के हिसाब से बताना होगा जिसको एक सिविल इंजीनियरिंग के द्वारा सर्टिफाई किया जाएगा और 3 दस्तावेजों के आधार पर आपको कर्ज दाता आपकी योग्यता जो लागत आपको दी जाएगी नियमों और शर्तों के आधार पर आप का लोन पास अप्रूवल किया जाएगा।